चींटियों का ‘घोसला’ बना 12 साल की बच्ची का कान – FunPlanetEarth.com

बचपन में आपने हाथी और चींटी की कहानी तो जरूर सुनी होगी कि कैसे एक चींटी ने हाथी का काम तमाम कर दिया था। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि आपको चींटियों के साथ साल के 365 दिन बिताना पड़े तो आप क्या करेंगे? हम आपको एक ऐसी लड़की के बारे में बताने जा रहें हैं जिसका चींटियों की दुनिया से करीबी नाता है|

एक चींटी के काटने से आप तिलमिला उठते हैं तो क्या आपने कभी सोचा है कि अगर आपको चींटीयों का झुंड काटेगा तो क्या हाल होगा? भारत में ही एक हिस्सा ऐसा है जहां पर एक छोटी सी लड़की का चींटीयों की दुनिया से गहरा नाता है। ये चींटियां उसे दिन-रात काटती हैं लेकिन उस बच्ची की दोस्ती इन चींटियों से इतनी गहरी हो चुकी है कि उससे पीछा छुड़ाना नाममुकिन सा लग रहा है।

12 साल की इस बच्ची का नाम श्रेया दार्जी है जिसके कान में एक यो दो नहीं बल्कि हजारों की संख्या में चींटियां रहती हैं। लेकिन ये चींटियां कब और कैसे उसके कान में आईं इसका पता लगाने में बड़े-बड़े डॉक्टर भी फेल हो गए हैं। डॉक्टरों ने बच्ची के कान का ऑपरेशन तो किया और उसके कान से चींटियों का जाल भी साफ कर दिया लेकिन फिर भी श्रेया के कान से चींटियां निकलने का सिलसिला थमा नहीं है।

वहीं, श्रेया के पापा संजय दार्जी का कहना है कि पहली बार श्रेया के कान से चींटियों को निकलते हुए स्कूल में देखा था। उसके बाद से लगातार कई डॉक्टरों को दिखाया लेकिन सभी इस परेशानी से छुटकारा दिलाने में फेल हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *